यह
Surah Naas (सूरह नास)
मक्की सूरह है और इसमें 6 आयतें हैं। 
Surah Naas 114वीं सूरह है


इस में पाँच बार ((नास)) शब्द आने की बजह से इस सूरह का नाम सूरह नास है।
जिस का मतलब इन्सान है।





Surah-Naas-Image



शुरू करने से पहले सूरह नास के कुछ महत्वपूर्ण बिंदू जरूर देखें


1. सूरह नास की आयत नंबर 1 से 3 तक पनाह देने वाले की खसूसयात बयान
की गयी हैं।
2. सूरह नास की आयत नंबर 4 में जिस की बुराई से पनाह मांगी गई है उस
के घातक दुश्मन होने से होशियार किया गया है।

3.
सूरह नास
की आयत नंबर 5 में बताया गया है कि वह इन्सान के दिल पर हमला करता
है।
4. सूरह नास की आयत नंबर 6 में होशियार किया गया है कि यह दुश्मन
जिन्न तथा इन्सान दोनों में होते हैं।


    Surah Naas in Hindi(सूरह नास हिंदी में तर्जुमा संग)




    बिस्मिल्लाह-हिर्रहमान-निर्रहीम
    अल्लाह के नाम से, जो बड़ा मेहरबान निहायत रहम बाला है।


    कुल अऊजु बिरब्बिन नास[1]
    (हे नबी!) कहो कि मैं उसकी पनाह में आया जो सब लोगों का रब है।


    मलिकिन नास[2]

    सब लोगो का बादशाह।


    इलाहिन नास[3]

    सब लोगों का खुदा है।


    मिन शर रिल वसवा सिल खन्नास[4]
    बसबसे डालने वाले और छुप जाने वाले (राक्षस) की बुराई से।




    अल्लज़ी युवस विसु फी सुदूरिन नास[5]
    जो लोगों के दिलो में बसबसे डालता रहता है।


    मिनल जिन्नति वन नास[6]
    जो जिन्नों में से है और मनुष्यों में से भी।






    Surah Naas Hindi Image




    surah-naas-hindi-image





    Surah An Nas in Hindi Pdf Download




    मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर
    सूरह नास को हिंदी में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने
    Surah Naas की
    Hindi Image भी देखी होंगी।



    यहाँ हमने Surah Naas Hindi Pdf उपलब्ध करायी है आप आसानी के
    साथ सूरह सूरह नास की पीडीऍफ़ को डाउनलोड कर सकते है।






    download button


    Surah Naas in English with Transliteration




    Bismillaahir Rahmaanir Raheem
    In the name of Allah, Most Gracious, Most Merciful.


    1. Qul a’oozu bi rabbin Naas
    Say: I seek refuge with the Lord and Cherisher of Mankind,


    2. Malikin Naas
    The King (or Ruler) of Mankind,


    3. Ilaahin Naas
    The god (or judge) of Mankind,-


    4. Min sharril waswaasil khannaas
    From the mischief of the Whisperer (of Evil), who withdraws (after his
    whisper)



    5. Allazee yuwaswisu fee sudoorin naas
    (The same) who whispers into the hearts of Mankind,-


    6. Minal jinnati wannaas
    Among Jinns and among men.




    Surah Naas  English Image




    surah-naas-english-image





    Surah Naas in English Pdf Download




    मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर
    सूरह नास को इंग्लिश में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने
    Surah Naas
    की  English Image भी देखी होंगी।



    यहाँ हमने Surah Naas  English Pdf उपलब्ध करायी है आप
    आसानी के साथ सूरह सूरह नास की पीडीऍफ़ को डाउनलोड कर सकते है।





    download button

    Surah An Nas in Arabic with Urdu Tarjuma




    بِسْمِ اللَّهِ الرَّحْمَٰنِ الرَّحِيم



    1. قُلْ أَعُوذُ بِرَبِّ النَّاسِ
    ترجمہ : کہو کہ میں لوگوں کے پروردگار کی پناہ مانگتا ہوں


    2. مَلِكِ النَّاسِ
    ترجمہ : (یعنی) لوگوں کے حقیقی بادشاہ کی


    3. إِلَٰهِ النَّاسِ
    ترجمہ : لوگوں کے معبود برحق کی


    4. مِنْ شَرِّ الْوَسْوَاسِ الْخَنَّاسِ
    ترجمہ : (شیطان) وسوسہ انداز کی برائی سے جو (خدا کا نام سن کر) پیچھے ہٹ
    جاتا ہے



    5. الَّذِي يُوَسْوِسُ فِي صُدُورِ النَّاسِ
    ترجمہ : جو لوگوں کے دلوں میں وسوسے ڈالتا ہے


    6. مِنَ الْجِنَّةِ وَالنَّاسِ
    ترجمہ : وہ جنّات میں سے (ہو) یا انسانوں میں سے




    Surah An Nas in Arabic Image




    Surah-An-Nas-in-Arabic-Image





    surah-naas-arabic-image



    Surah An Nas in Arabic Pdf Download




    मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर
    सूरह नास को अरबी में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने
    Surah Naas की Arabic Image भी देखी होंगी।



    यहाँ हमने Surah Naas Arabic Pdf उपलब्ध करायी है आप आसानी के
    साथ सूरह सूरह नास की पीडीऍफ़ को डाउनलोड कर सकते है।





    download button







    यह भी पढ़ें: – Ayatul Kursi Hindi Me



    Surah Naas Mp3 or Audio Download




    मेरे प्यारे भाइयों और बहनों जैसा की आपने इस पोस्ट में सूरह नास को सभी
    भाषाओं में टेक्स्ट और इमेजेज के जरिये पढ़ा ही होगा।
    लेकिन अगर आप Soorah Naas सुनना पसंद करते है, जिससे आपने दिल और दिमाग
    को आराम मिलता है। तो आप इसकी ऑडियो डाउनलोड कर सकते हैं।
    download button


    Some Hadith On Surah Naas




    [1] आयशा रजिअल्लाहो अन्हो से रिवायत है: जब भी अल्लाह के रसूल (ﷺ)
    बीमार हो जाते, तो वह मुअव्विदत (सूरत अल-फलक और सूरत अन-नास) पढ़ते और फिर
    अपने जिस्म पर दम करते।



    जब वे शदीद बीमार हो जाते तो, (इन दो सुरों) की तिलावत करते थे और उसके
    अहसानात (अल्लाह) की उम्मीद में अपने जिस्म पर हाथ फेरते थे। 
    (Sahih al-Bukhari 5016)


    [2] आयशा रजिअल्लाहो से रिवायत है: जब भी अल्लाह के रसूल(ﷺ) बिस्तर
    पर जाते थे, तो वह सूरत-अल-इखलास, सूरत-अल-फलक और सूरत-ए-नास की तिलावत
    करते थे



    फिर अपनी हथेलियों पर फूंक मारते थे और उन्हें अपने चेहरे और उन हिस्सों
    पर फेरते थे ,जहाँ तक हाथ पहुंच सकें और जब वे बीमार पढ़ते, तो मुझे उनके
    लिए वैसा ही करने का हुकुम देते थे
    (Sahih al-Bukhari 5748)



    [3] हदीस में है कि नबी (सल्लल्लाह अलैहि व सल्लम) हर रात जब
    बिस्तर पर जाते तो सूरह इख्लास और यह सूरह नास और इस के पहले की सूरह (सूरह
    अल फलक) पढ़ कर अपनी दोनों हथेलियाँ मिला कर उन पर फूंकते



    फिर जितना हो सके दोनों को अपने शरीर पर फेरते। सिर से शुरू करते और फिर
    आगे के शरीर से गुज़ारते। ऐसा आप तीन बार करते थे
     
    (सहीह बुख़ारी: 6319, 5748)


    यह भी पढ़ें: – Surah Yaseen Benefits Hindi Me


    Surah Naas ki Fazilat aur Wazifa



    दोस्तों जैसा की आप जानते ही है की कुरआन की हर सूरह और आयत को पढने की कोई
    न कोई फ़ज़ीलत होती ही है


    अल्लाह ताला ने हमे कुरआन को एक निहायत कीमती तोहफे के रूप में दिया
    है



    यहाँ हम सूरह नास की फ़ज़ीलत के बारे में कुछ बता रहे है इसे जरूर पढ़े



    1. जब कोई शख्स बीमारी की हालत में हो तो उसको चाहिए की सूरह नास की
    तिलावत करे



    2. हमें चाहिये कि सोने से पहले हम सूरह नास और सूरह अल फलक की
    तिलावत करें क्यूंकि यह हमारे प्यारे नबी 
    सल्लल्लाह अलैहि व सल्लमसल्ल्लाल ने ऐसा किया। जिसकी ऊपर हदीस ब्यान की गयी है


    Some Questions and Answers about Surah Naas




    What is the importance of Surah Naas?




    Ans. सूरह अन-नास और सूरह अल फलक अल्लाह द्वारा हमें दिया एक तोहफा हैं, जिसका इस्हतेमाल हम दाखली और
    खारजी बुराइयों से उसकी पनाह लेने के लिए कर सकते हैं। शैतान की फुसफुसाहट,
    जिन्नों के हमले, हमारे आसपास के लोगों की बुरी नजर और हसद, ये सभी जहरीले
    दुश्मन हैं जिनसे ये खूबसूरत अव्वाव हमारी हिफाजत कर सकते हैं।



    What is the meaning of Surah Naas?




    Ans. Surah Naas का मतलब, “मैं इंसानों के मालिक की पनाह चाहता हूं…” सूरा नास
    (अरबी पाठ: لنَّاس) कुरान का 114 वां सूरह है। इसका अंग्रेजी में मतलब
    “मैनकाइंड” है


     मेरे प्यारे दीनी भाइयों
    और बहनों आपको ये पोस्ट पसंद आई हो तो इसे आगे भी भेजें

    By admin

    Related Post

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *