Surah An Nasr in Hindi, मदनी सूरह है और इसमें 3 आयतें हैं।
कुरान में यह सूरह अन नस्र के नाम से 30वें पारा में मौजूद है।
यह
Surah Nasr 110वीं  सूरह है।

Ija Ja A Nasrullah Surah के बारे में कुछ बातें

  • आयत 1 में अल्लाह की मदद आने तथा मक्का की फतह की बात की गयी है।
  • आयत 2 में लोगों के गिरोहों में इस्लाम लाने की बात की गयी है।
  • आयत 3 में आप (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) को अल्लाह का यह तोहफा मिलने पर अल्लाह की हम्द व सना बयान करने की हिदायत दी गयी है।
surah-an-nasr-image

    Ija Ja A Nasrullah Surah Hindi Me Tarjuma Ke Saath



    (सुरह अन नस्र हिंदी में)




    बिस्मिल्लाह-हिर्रहमान-निर्रहीम
    अल्लाह के नाम से, जो बड़ा मेहरबान निहायत रहम बाला है।


    1. इजा जा अ नसरुल लाहि वल फतह
    ऐ रसूल जब ख़ुदा की मदद आ पहँचेगी


    2. वरा अयतन्नासा यदखुलूना फी दीनिल ल्लाही अफ़वाजा
    और फतेह (मक्का) हो जाएगी और तुम लोगों को देखोगे कि गोल के गोल ख़ुदा के दीन
    में दाख़िल हो रहे हैं



    3. फसब्बिह बिहम्दि रब्बिका वस्तग फिरहु इन्नहू काना तौव्वाबा
    तो तुम अपने परवरदिगार की तारीफ़ के साथ तसबीह करना और उसी से मग़फेरत की दुआ
    माँगना वह बेशक बड़ा माफ़ करने वाला है


    Surah An Nasr Hindi Hindi Image



    surah-an-nasr-In-hindi-image




    यह भी पढ़ें:- Surah Falaq in Hindi Pdf

    Surah An Nasr in Hindi Pdf Download



    मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर
    सूरह अन नस्र को हिन्दी में तर्जुमा
    के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने Iza Ja A Nasrullah Surah की Hindi Image
    भी देखी होंगी।



    यहाँ हमने Ija Ja Aa Nasrullahi Surah Pdf Hindi Me उपलब्ध
    करायी है आप आसानी के साथ सूरह नस्र की Pdf को डाउनलोड कर सकते है।


    download button

    Iza Ja A Nasrullah Surah in English with Transliteration



    Bismillah Hir Rahman Nir Raheem
    In the name of Allah, The Most Gracious and The Most Merciful
    1. Iza jaaa’a nasrul-laahi walfath
    When the victory of Allah has come and the conquest,
    2. Wa ra-aitan naasa yadkhuloona fee deenil laahi afwajaa
    And you see the people entering into the religion of Allah in multitudes,
    3. Fasabbih bihamdi rabbika wastaghfirh, innahoo kaana tawwaaba 
    Then exalt [Him] with praise of your Lord and ask forgiveness of Him.
    Indeed, He is ever Accepting of repentance.


    Surah Nasr English Image



    surah-an-nasr-In-english-image




    यह भी पढ़ें:- Surah Rahman English Transliteration


    Surah Nasr in English Pdf Download



    मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर
    सूरह अन नस्र को हिन्दी में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ
    आपने
    Iza Ja Aa Nasrullahi Surah
    की Hindi Image भी देखी होंगी।



    यहाँ हमने Iza Ja A Nasrullahi Surah Pdf Hindi Me उपलब्ध करायी
    है आप आसानी के साथ सूरह नस्र की Pdf को डाउनलोड कर सकते है।


    download button

    Surah An Nasr in Arabic with Urdu Tarjuma



    ببِسْمِ ٱللَّهِ ٱلرَّحْمَٰنِ ٱلرَّحِيمِ‎
    شروع اللہ کے نام سے جو بڑا مہربان نہایت رحم والا ہے


    إِذَا جَآءَ نَصْرُ ٱللَّهِ وَٱلْفَتْحُ ۝‎
    (جب خدا کی مدد آ پہنچی اور فتح (حاصل ہو گئی


    وَرَأَيْتَ ٱلنَّاسَ يَدْخُلُونَ فِى دِينِ ٱللَّهِ أَفْوَاجًا ۝‎
    اور تم نے دیکھ لیا کہ لوگ غول کے غول خدا کے دین میں داخل ہو رہے ہیں


    فَسَبِّحْ بِحَمْدِ رَبِّكَ وَٱسْتَغْفِرْهُ ج إِنَّهُۥ كَانَ تَوَّابًۢا
    ۝‎

     تو اپنے پروردگار کی تعریف کے ساتھ تسبیح کرو اور اس سے مغفرت مانگو، بے شک
    وہ معاف کرنے والا ہے




    यह भी पढ़ें:- Surah Lahab in Hindi Pdf

    Surah An Nasr Arabic Image



    surah-an-nasr-In-arabic-image


    यह भी पढ़ें:- Surah Yaseen Pdf

    Surah An Nasr in Arabic Pdf Download



    मेरे प्यारे दीनी भाइयों और बहनों जैसा की आपने ऊपर सूरह अन नस्र को हिन्दी
    में तर्जुमा के साथ पढ़ा ही होगा। साथ ही साथ आपने
    Iza Ja Aa Nasrullahi Surah की Arabic Image भी देखी
    होंगी।



    यहाँ हमने Iza Ja Aa Nasrullah Surah Pdf Hindi Me उपलब्ध करायी है आप आसानी
    के साथ सूरह नस्र की Pdf को डाउनलोड कर सकते है।


    download button

    Surah Nasr Ki Mp3 or Audio File Download



    मेरे प्यारे भाइयों और बहनों जैसा की आपने इस पोस्ट में
    सूरह अन नस्र  को सभी भाषाओं में टेक्स्ट और इमेजेज के जरिये पढ़ा ही होगा।



    लेकिन अगर आप सूरह सुनना पसंद करते है, जिससे आपने दिल और दिमाग को आराम मिलता
    है।



    उसके लिये हमने नीचे सुरह नस्र की Mp3 फाइल डाउनलोड करने का लिंक दिया
    है। यहाँ से आप आसानी के साथ Surah Nasr Ki Mp3 को डाउनलोड कर सकते
    हो।


    download button

    Meaning Of Surah An Nasr



    सूरन अन-नस्र के लफ्ज़ी मायने होते है “मदद” या “सहायता” है,
    यानी अल्लाह की तरफ से एक इलाही मदद। क्युकी अल्लाह ने मक्का मुकर्रमा को फतह
    करने में मदद की।



    अल्लाह सुभानहु वात ‘अला ने उन लोगों को सहायता दी जिन्होंने पैगंबर मुहम्मद
    सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के दींन को क़ुबूल किया था।



    यह सब उन्होंने अल्लाह की मदद से किया और लोगों ने दीन कुबूल किया।



    यह भी पढ़ें:- Surah Yaseen Benefits in Hindi

    The Virtue & Benefit of Surah An-Nasr



    Surat Nasr को एक बार पढ़ने का मतलब होता है कि हमने एक चौथाई कुरान पढ़ लिया
    क्यूंकि सूरह नस्र, 1/4 कुरान के बराबर है। इसलिए आप इस सूरत नस्र को कम अज कम
    एक मर्तवा पढ़कर बेहद फ़ज़ीलत और फवायिद हासिल कर सकते है।

    खुसूसियात और इन्कशाफात का मकसद



    इस सूरह नस्र से मुराद इस्लाम की फतह से है मुसलमानों की दुश्मनों समेत दूसरों
    पर फतह थी।



    Surah Nasr का दूसरा नाम Surah At-Tawdi. Tawdi के मायने होते
    है “विदा लेना”। यहाँ विदा लेने के मायने है कि पैगंबर सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम
    के इस दुनिया से चले जाना है।



    हज़रत अब्दुल्ला बिन उमर रदी अल्लाहु अन्हु के मुताबिक़, इस सूरह को मीना में
    तशरिक (ईद-उल-अज़हा के अगले 3 दिनों के बाद) के बीच में अलविदाई सफर के मौके पर
    नाजिल किया गया था।



    Surah An-Nasr सूरह अन-नस्र आखिरी सूरह थी जो प्यारे पैगंबर सल्लल्लाहु
    अलैहि वसल्लम पर पूरे तौर पर नाजिल हुई थी। इस सूरह के बाद कोई मुकम्मल सूरह
    नाजिल नहीं हुई।


    ज्यादा मख्सूसी होने की बजह से सूरह नस्र वाहिद आखरी सूरह थी जो एक ही बार में
    मुकम्मल तौर पर नाजिल हुई और सूरह फातह पहली सूरह थी जो एक ही बार में
    मुकम्मल तौर पर नाजिल हुई।


    The Meaning of the words of this Surah Nasr



    • Iza- जब
    • Ja-a- आती है
    • Nasru- मदद
    • ALLAHi- अल्लाह की
    • wal-fat-hu- और फतह
    • wara-ayta- और आप देखते है
    • l-naasa- अवाम
    • yadkhuloona- दाखिल होते हुए
    • Fee- में 
    • Deeni- दीन (इस्लाम)
    • l-laahi- (के) अल्लाह
    • afwaajan– (में) कसीर तादाद
    • fasabbih- फिर तस्वीह करें
    • bi’hamdi- तारीफ़ के साथ
    • rabbika- अपने रब की
    • wa-istaghfirhu-
      और उससे माफ़ी मांगे

    • innahu- बेशक, वो
    • kaana- है
    • tawwaaba- बड़ा माफ़ करने बाला



    Some Hadith of Surah An Nasr



    1. सैय्य्दः आयशा रदी अल्लाहु अन्हा से रिवायत है:


    “जब सूरत-एन-नस्र”, ‘अल्लाह की मदद और फतह की बात आती है,’ पैगंबर
    सल्लाहू अलैह बसल्लम पर नाजिल की गयी – तो नबी  सिवाय इसके कि ने कोई दुआ
    नही की सिर्फ यह दुआ की,



    “सुभ्हनाका रब्बाना वा बिहमदिका; अल्लाहुम्मा अघफिरली (मैं अपने रब की
    विशिष्टता की गवाही देता हूं, और तमाम तारीफें उसके लिए हैं: ऐ अल्लाह, मुझे
    माफ़ फरमा!” 
    (सहीह अल-बुखारी 4967)

    2. सैय्य्दः आयशा रदी अल्लाहु अन्हा से रिवायत है:


    “अल्लाह के रसूल सल्लाहू अलैह बसल्लम झुकते और सजदह करते वक्त अक्सर कहा करते
    थे: सुभ्हाना कल्ला हुम्मा बबि हम्दिका, अल्लाहुम्गफिरली, 



    “कुरआन पाक के जरिये दिए गए हुकुम की तामील करते हुए, ऐ अल्लाह और आपकी बढ़ाई
    बयान करते हुए, ऐ अल्लाह मैं आपसे माफी मांगता हूँ मुझे माफ़ फरमा”


    3. हदीस में है कि 


    इस तरह के नजूल उतरने के बाद से आप (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) अपनी नमाज़ (के
    रुकूअ और सजदे) में अधिक्तर ((सुब्हानका रब्बना व बिहम्दिका अल्लाहुम्मगफिर
    ली)) पढ़ा करते थे। (सहीह बुख़ारीः 4967, 4968)


    मेरे प्यारे दीनी भाईयों और बहनों अगर ये पोस्ट पसंद आई हो तो आगे भी शेयर
    करें।

    By admin

    Related Post

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *